Monday, 3 September 2018

About of Diamond in Science in Hindi | No Limit Of Study

Diamond Explain in Science in Hindi-:

Facts of Diamond

हीरा


(1) हीरा एक अनोखी चमक वाला रंगीन पारदर्शी पदार्थ है।

(2) हीरा काफी भारी होता है और अत्यधिक कठोर है भी और सबसे अधिक कठोर ज्ञात प्राकृतिक पदार्थ है।

(3) हीरा विद्युत का चालन नहीं करता है।

(4) हीरे को तेज गर्म करने पर हीरा जलता है और Co2 बनाता है और कोई चीज शेष नहीं बचती है ये यह प्रदर्शित करता है कि यह केवल कार्बन का बना है हीरे के जलने से बनी Co2
चूने के पानी को दूधिया कर सकती है क्योंकि हीरा केवल कार्बन परमाणुओं का बना होता है।

(5) इसका प्रतीक C (Carbon) लिखा जाता है।

(6) हीरे का गलनांक 3500 डिग्री से अधिक होता है कारण यह है कि हीरा क्रिस्टल से मजबूत सह-संयोजक आबंधनो के जाल को तोड़ने के लिए काफी अधिक ऊष्मा ऊर्जा की आवश्यकता होती है।

(7) हीरे का क्रांतिक कोण बहुत कम 24 डिग्री होता है और हीरे को इस प्रकार काटकर बनाया जाता है कि जब कोई प्रकाश की किरण हीरे में प्रवेश करें तो इसका आयतन कोण क्रांतिक कोण से बड़ा हो।अतः प्रकाश का परावर्तन होता है जिससे हीरा चमकदार दिखाई देता है।

(8) यह किसी द्रव में नहीं घुलता है असली हीरा पानी में डालते ही डूब जाता है जबकि नकली हीरा पानी पर तैरता है।

(9) इस पर अम्ल और क्षार आदि का कोई प्रभाव नहीं पड़ता है

(10) इसका अपवर्तनांक 2.417 होता है।

(11) इस पर रेडियम से निकलने वाली X किरणों के पडने पर या हरा रंग प्रदर्शित करता है।

(12) शुद्ध हीरा पारदर्शक एवं रंगीन होता है

(13 )हीरे में कार्बन SP3 प्रसंकरित रहता है।


हीरे का उपयोग

(1) हीरा अत्यधिक कठोर होता है,इसलिए अन्य कठोर पदार्थों को काटने और पीसने तथा धरती की चट्टानों की परतों में छेद करने के लिए एक उपयुक्त पदार्थ  हीरे का उपयोग करते हैं।

(2) हीरे को गहने बनाने के रूप में भी किया जाता है और कुछ हीरे काले भी होते हैं जिनका उपयोग शीशा काटने में किया जाता है कुछ हीरे नुकीले भी होते हैं जिनका उपयोग मोतियाबिंद को ठीक करवाने के लिए किया जाता है।

No comments:

Post a Comment

Featured post

About of Diamond in Science in Hindi | No Limit Of Study

Copyright © 2018 All Rights Reserved Nolimitofstudy