Tuesday, 4 September 2018

Graphite in Science in Hindi | No Limit Of Study

Graphite in Science

ग्रेफ़ाइट

(1) ग्रेफाइट एक घसूर-काला अपारदर्शी पदार्थ है।
(2) ग्रेफाइट हीरे से हल्का और छूने में चिकना (फिसलने वाला) है।
(3) ग्रेफाइट विद्युत का सुचालक है।
(4) ग्रेफाइट को तेज गर्म करने पर ग्रेफाइट जलता है और कार्बन डाइऑक्साइड बनाता है।
(5) यदि हम ग्रेफाइट को ऑक्सीजन में जलाते हैं तो केवल कार्बन डाइऑक्साइड बनती है और कोई चीज शेष नहीं बचती है ये यह दर्शाता है कि ग्रेफाइट केवल कार्बन का बना होता है।
(6) ग्रेफाइट के जलने से बनी कार्बन डाइऑक्साइड चूने के पानी को दूधिया कर देती है क्योंकि ग्रेफाइट केवल कार्बन परमाणुओं का बना होता है।
(7) इसका प्रतीक C (Carbon) लिखा जाता है।
(8) ग्रेफाइट में कार्बन SP2 प्रसंकरित रहता है।

Click Kare हीरे के बारे में पढ़ने के लिए


ग्रेफाइट का उपयोग

(1) चिकनाहट के कारण चूर्णित ग्रेफाइट को मशीनरी के तेज गतिमान भागों के लिए स्नेहक के रूप में प्रयोग किया जाता है।
(2) शुष्क शैलों के काले रंग के “एनोड” ग्रेफाइट के बने होते हैं।
(3) विद्युत मोटर के कार्बन बु्श भी ग्रेफाइट के बने होते हैं।
(4) ग्रेफाइट का उपयोग पेंसिल बनाने में किया जाता है और उच्च ताप पर ओंगन के रूप में भी किया जाता है।

1 comment:

Copyright © 2018 All Rights Reserved Nolimitofstudy